स्कूल की कुंवारी चूत

 
loading...

दोस्तो, मेरा नाम विकाश है, हरियाणा का रहने वाला हूँ। इस वक़्त मैं 19 साल का हूँ। मैं दिखने में ठीक-ठाक ही हूँ। मैं नाईट डिअर का नियमित पाठक हूँ। मुझे छोटे चूचे और बड़े चूतड़ों वाली लड़कियाँ बहुत पसंद हैं।

मैं पहली बार कहानी लिख रहा हूँ इसलिए अगर कोई गलती हो तो मुझे माफ़ करना।

मैं 12 वीं में पढ़ता हूँ और मेरा स्कूल मेरे गाँव से 8 किलामीटर दूर है। मैं हमेशा ऑटो से स्कूल जाता हूँ। हमारे स्कूल में मेरे ही पड़ोस

की एक लड़की भी पढ़ती थी।
उसका नाम रिया है, मुझे वो बचपन से ही पसंद थी, जब मैं उसके बारे में सोचता हूँ तो आज भी मेरा लंड खड़ा हो जाता है।

कभी-कभी हम एक ही ऑटो में साथ-साथ स्कूल जाते थे, लेकिन वो किसी भी लड़के से ज्यादा बात नहीं करती थी।

बात आज से एक महीने पहले की है।

जून की छुट्टियों के दस दिन बाद ही वो बीमार हो गई, जिस वजह से वो 8-9 दिन स्कूल नहीं आ सकी और पढ़ाई में पीछे रह गई।

एक दिन जब मैं स्कूल से निकला ही था कि उसने पीछे से आवाज लगाई- विकाश रुक जरा…

मैं उससे बात करने के मौके ढूंढता रहता था और आज उसने ही मुझे पुकारा।

मैं बोला- हाँ.. रिया क्या हुआ?

रिया बोली- मुझे तेरी कॉपी चाहिए थी।

मै बोला- कौन सी?

‘मैथ की!’ रिया बोली।

मैं- लेकिन मुझे तो उसका काम करना है।

रिया- मुझे दे दे ना प्लीज।

मैं- ओके.. ले जा लेकिन घर देगी या स्कूल में।

मैंने तो साधारण तरह से ही कहा था, लेकिन वो बोली- मैं शादी से पहले किसी को नहीं दूँगी।
और हँसने लगी।
मैं- अच्छा जी।

रिया- कल दूँगी..

मैंने ‘ओके’ कहकर कॉपी दे दी और आगे चलने लगा।

वो- कहाँ जा रहा है.. साथ चलते हैं ना..

हम बात करते-करते घर आ गए।

सारे रास्ते वो ऑटो में मुझे देख कर हँसती रही।

अगले दिन वो कॉपी लाना भूल गई जिसकी वजह से मुझे डंडे खाने पड़े और उसे बचाना पड़ा यह कहकर कि मैं रिया की कॉपी लेकर

गया था और लाना भूल गया।

मेरे ऐसा कहने से रिया बच गई लेकिन वो गुस्सा हो गई, उसने मुझे आधी छुट्टी में एक अलग कमरे में बुलाया।

रिया- तूने सर से झूट क्यों बोला कि तू मेरी कॉपी ले कर गया था?

मैं- नहीं तो वो तुझे मारते और मुझे दुःख होता।

‘लेकिन तुम्हें दुःख क्यों होता?’ रिया ने थोड़े गुस्से में पूछा।

मैं- क्योंकि मैं तुमसे दोस्ती करना चाहता हूँ।

उसने बनावटी गुस्से से पूछा- और कुछ तो नहीं है ना?

‘नहीं यार और कुछ भी नहीं है..।’ मैंने कहा।

वो खुशी से बोली- आज से हम दोनों पक्के दोस्त..

फिर तो हम साथ स्कूल जाने लगे और साथ ही स्कूल से घर आते, हम बहुत मस्ती करते थे। हम अब बिल्कुल खुल कर भी बात कर

लेते थे।

मैं स्कूल में फ़ोन लेकर जाता था।

एक दिन स्कूल के समय में उसने मेरा फ़ोन माँगा, मैंने दे दिया क्योंकि वो कई बार मेरा फोन लेती थी लेकिन उस दिन मेरे फ़ोन में

एक गन्दी फिल्म थी जो मुझे हटाना याद नहीं रही और उसने देख ली।

उसने मुझे फिर से उसी कमरे में बुलाया।

रिया- ये लो तुम्हारा फ़ोन ! और तुम गन्दी वीडियो देखते हो?

मैं- हाँ यार कभी-कभी।

रिया- क्या कभी किसी के साथ कुछ किया है?

मैं- नहीं यार.. अब तक नहीं किया लेकिन वीडियो देख कर हाथ से काम चला लेता हूँ।

रिया- अपना नम्बर दे।

मैंने दे दिया और बोली- कुछ ‘करेगा’ मेरे साथ?

मैंने बिना सोचे-समझे उसके होंठों पर चुम्मी कर दी।

तो उसने मुझे धक्का दे कर कहा- सब्र कर.. सब्र का फल मीठा होता है।

मैं उस रात बिल्कुल भी नहीं सो सका।

अगले दिन कुछ भी नहीं हो सका। फिर 2-3 दिन मैं कभी उसकी चूची दबा देता तो कभी उसके चूतड़.. वो बस ‘आह’ सी निकाल कर

रह जाती थी।

फिर एक दिन वो बोली- तुम कल स्कूल मत आना.. मेरे घर वाले एक रिश्तेदार की शादी में जायेंगे.. तो तुम मेरे घर आ जाना।

मैं बहुत खुश हुआ और वहीं पर उसे चुम्बन करने लगा। पहली बार उस दिन उसने मेरा साथ दिया।

क्या मजा आ रहा था मैं बता नहीं सकता। फिर मैं उसकी चूचियाँ दबाने लगा।

वो- आह…सीइई.. सी.. बस यार.. एक दिन और इंतजार कर लो।

फिर उसने मुझे आने का वक्त बताया और हम क्लास में आ गए।

उसके बताए अनुसार मैं ठीक समय पर पहुँच गया।

उसने दरवाजा खोला।

उस वक्त वो लाल रंग का सूट और हरे रंग की सलवार पहने हुई थी।

मुझे देखते ही वो मुस्कुराई और अन्दर चली गई।

मैं भी पीछे-पीछे चला गया।
मैंने उसे पीछे से जाकर पकड़ लिया और गालों पर चुम्बन करने लगा, उसे घुमाया और घुमाते ही वो मेरे सीने से लग गई।
उसके मम्मे मेरी छाती में चुभ रहे थे।
मैंने उसके होंठों को चूमना शुरु कर दिया।

वो भी मेरा साथ देने लगी, थोड़ी देर होंठ चूसने के बाद मैंने उसके मम्मों को कमीज के ऊपर से ही दबाना शुरु कर दिया।

वो सिसकारियाँ लेने लगी।

मैंने उसका कमीज उतार दिया।
उसने लाल रंग की ब्रा पहनी हुई थी।

रिया- अब सारा यहीं करोगे या कमरे में भी चलोगे।

मैंने उसे गोद में उठाया और कमरे में ले जाकर बिस्तर पर लेटा दिया और उसके ऊपर जाकर ब्रा के ऊपर से ही उसके चूचे मसलने व

चूसने लगा।

वो ‘आहें’ भरने लगी। उसने खुद ही ब्रा उतार दी.. अब वो मेरे सामने आधी नंगी थी।

मैं उसके चूचों पर टूट पड़ा और एक मम्मे को चूसने तथा दूसरे को हाथ से मसलने लगा।

अब उसकी सिसकारी तेज हो रही थी।

मैंने उसका नाड़ा खोल कर उतार दिया उसने नीचे लाल रंग की चड्डी पहनी हुई थी।

अब उसने कहा- अपने भी उतार लो।

मैंने कहा- खुद ही उतार लो।

उसने मेरे सारे कपड़े उतार दिए।

मेरा लंड देखकर उसकी आँखें फ़ैल गईं और कहने लगी- सब लड़कों का लंड इतना ही बड़ा होता है?

‘नहीं जानू.. किसी-किसी का तो इससे भी बड़ा होता है।

यह कहते हुए मैंने उसकी कच्छी उतार दी।

क्या मस्त चूत थी बिल्कुल साफ़।
उस पर एक भी बाल नहीं था।

मैंने उसकी टांगें चौड़ी कीं और बीच में बैठ कर लंड को चूत पर रख कर हल्का धक्का दिया लेकिन लंड फिसल गया।

मैंने दूसरा धक्का लगाने को लंड पकड़ा ही था कि रिया बोली- जानू जरा आराम से करना, पहली बार है।

मैंने कहा- ठीक है।

मैंने फिर लंड को चूत पर रखा और दबाने लगा।

लंड का अगला हिस्सा ही गया था कि वो रोने लगी- मुझे छोड़ दो.. दर्द हो रहा है.. मैं मर जाऊँगी.. उई..आआअह ह्ह्ह्ह्ह..

मैंने उसके हाथ पकड़ कर होंठों पर होंठ रख कर धक्के देना शुरू कर दिए और धीरे-धीरे लंड चूत में धंसता चला गया उसकी आँखों से

आँसू निकल आए।

लेकिन कुछ ही देर में उसे मजा आने लगा।

‘आह्ह्ह जोर से करो.. मजा आ गया..’

कुछ देर बाद हम दोनों झड़ गए।

उसके बाद मैं उसके ऊपर ही ढेर हो गया।

कुछ देर बाद हम दोनों उठे और फिर बातें करने लगे।

इस चुदाई के बाद तो जैसे हम दोनों सिर्फ चुदाई के लिए जगह और मौके की तलाश में ही रहने लगे थे।

यह थी मेरी और मेरी चाहत की चुदाई।



loading...

और कहानिया

loading...


Online porn video at mobile phone


sex story nnd or kuta or ma ssurbadi behanko chodate chotine dekha kahanimasi and bhanja sex with keachanApna wala injection lagwan kya hot sex videospapa or mousi ki xxx story readsuhagh raat me etne chudai ki ladki thak k rone lge bus or nhi hindi ful storyTere pati ke samne coduga sex odio story onliwww.antarvasna beta bani patideb.inxxx .co.insex Hindi hd dehati jabardastiचोदो मादरचोद फाड् दो मेरी गांडbahan ki matakati gand mari sex storymaa.ki.gand.mariचाची दीदी मा की sucksexpatni ke sath chhoti bahan ko choda hindi sex storyधडक =xxx im.sasur ne gand ka seal tod dala sex kathabhatije ne coda hindi xxxxx kahaniजंगल कि sexy कहाणीयाँbabe saxy story hindedidi shat chodai kiyaअतरवाशन कि कहानि पडने वालीGf bf k mn hua antarvasna story allwww.orissa malisai anuty sex com.बुर में तेल डाल कर लन्ड सरका दिया लम्बी चुदाई कहानीजंगल कि sexy कहाणीयाँnew hindi hot kahani vedava bahan kewww xxx boli fokig xxxcomsexistudantsdesgi saxey vodas India n vayarl vnanad or nandoi ki suhagrat ki chudai ki kahanirandi ki cuddai pesse dekar full nighthind six storyindia grils chut ka bara ma baya sex xxxदारू वाली दारू पिलाxxxहिंदी काम कथा चोदु परिवारगरम callgirl को चोदा कहानीsagi bahin ki seel tuti mere samne hindi sexy storykhat.hotkahani.comchut.xxxaunty bhabhi ki choot chudaichutkahanixxx storiघर की औरतों की गर मर्दो क साथ सुहागरात की कहानीPADOSAN BHABHI KI GAND MARA 12INCH KE LUNDSEmom san hindi sexi khani hindi sabdo mepaise ke khatir chud gayiगलफरेड औ बुर कहानीयाॅBahan ki mast bur aur gand ki chudai ki kahanisaloni xxx porn kahaniyaएक्स एक्स एक्स सेक्स जबरदस्ती चिल्लाने लगेलड बुर मे गयाbhabhi ko bday par blaclmail karke gand mariantarvasana mamiChilati Hui wife and husband ki cudaix kahaniya moshiatarvashna sexi rep storymaa ko theto me group me chudate dekhahapse sex moti aanti hd videojori ki khani hindi me patak likhit pdne ke liy sexchudaikhanisaweta bhabi.comभाभी और बहन को ड्राइविंग कराते हुए अंतर्वसना गंदी कहानीxxxxxxxx.kahane..marathe.maक्सक्सक्स आंटी hd व्हिडिओसशेकश होट जबरदतिMa.byta.saxबिहार के भाभी गॉव के दादा के xxx wwwलंड खडा कर देने वाली कहानीhindisexkahanipahli baar sabke samne bahan chudi train me storysixe khani hindi chchaku bhabixxx.